नियोजन नीति के मुद्दे पर सत्ता पक्ष और विपक्ष की नारेबाजी

रांची। झारखंड विधानसभा के शीतकालीन सत्र के तीसरे दिन मंगलवार को सदन परिसर में सत्ता पक्ष और विपक्ष ने जमकर नारेबाजी की। भाजपा के बिरंची नारायण, ढुल्लू महतो ने नियोजन नीति स्पष्ट करने को लेकर हेमंत सरकार को घेरा। उन्होंने राज्य सरकार के अधीन सवा तीन लाख पद को भरने की मांग की और कहा कि यदि युवा नौकरी की मांग करता है, तो सरकार लाठी चलाकर उन्हें डराने का काम करती है।
मनीष जायसवाल ने जिला में स्कूल में बांटी जाने वाली पोशाक की गुणवत्ता पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा सरकार ने दो एनजीओ के माध्यम से 17 करोड़ की पोशाक खरीदी है, जिसकी गुणवत्ता बेहद खराब है। इसपर कांग्रेस के विधायक उमाशंकर अकेला ने पलटवार करते हुए कहा कि मनीष जायसवाल को इसका टेंडर नहीं मिला, जिससे वो नाराज हैं। साथ ही जिला शिक्षा अधीक्षक पर आरोप लगा रहे हैं। इरफान अंसारी ने यूपी और एमपी में दलित, पिछड़ा और अल्पसंख्यक को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया।

This post has already been read 2241 times!

Sharing this

Related posts