डाकघर से जुड़ी योजनाओं में झारखंड के लोगों ने जमा किए 34595 करोड रुपए

रांची। डाकघर से जुड़ी योजनाओं में झारखंड के लोगों ने 34595 करोड रुपए जमा किए हैं। साथ ही धुर्वा डाकघर में हुए वित्तीय धोखाधड़ी के मामले में इसका मुख्य अपराधी एनएएस का एजेंट है, जिसे राज्य सरकार की ओर से नियुक्त किया गया था। इस मामले में प्राथमिक भी दर्ज की गई है। इसके साथ ही डाक विभाग ने चार विभागीय कर्मचारियों को इस मामले में निलंबित किया है। ऐसे लोक शिकायत और दावों की जांच के लिए डाक विभाग ने व्यवस्था बनाई है, जहां शिकायत मिलने पर कार्रवाई की जाती है।उक्त आशय की जानकारी केंद्रीय संचार राज्यमंत्री देबू सिंह चौहान ने लोकसभा में गुरुवार को रांची के सांसद संजय सेठ के सवाल के जवाब में दी।
सांसद ने लोकसभा में झारखंड में डाकघर के द्वारा खोले गए खातों, योजनाओं में जमा की गई धनराशि, डाकघर में हो रही वित्तीय गड़बड़ी से संबंधित मामले को लोकसभा में उठाया था। अपने जवाब में केंद्रीय मंत्री ने बताया कि झारखंड में विभिन्न योजनाओं के तहत खाता खुलवाने और राशि जमा करने में लोगों ने बड़ी अच्छी रुचि दिखाई है। विभिन्न योजनाओं को लेकर झारखंड में बेहतर संचालन भी किया गया है। डाक विभाग के माध्यम से संचालित हो रही योजनाओं को लेकर केंद्रीय मंत्री ने राज्य का जिलावार ब्यौरा भी उपलब्ध कराया है। इसके तहत रांची में किसान विकास पत्र के तहत 240781, मासिक आय योजना के तहत 32629, महिला सम्मान बचत पत्र के तहत 2779, राष्ट्रीय बचत पत्र के तहत 279828, राष्ट्रीय बचत योजना के तहत 750 और लोक भविष्य निधि के तहत 11846 खाते खोले गए हैं। इसके अलावा आवर्ती जमा के तहत रांची जिले में 335438 खाते, वरिष्ठ नागरिक बचत योजना के तहत 8116 खाते, डाकघर बचत खाता के तहत 155480 खाते, सुकन्या समृद्धि योजना के तहत 69352 खाते, सावधि जमा के तहत 72764 खाते खोले गए हैं।
न योजनाओं की राशि आमलोगों के जरिये झारखंड के डाकघरों में जमा की गई है। इनमें किसान विकास पत्र में 9241 करोड़, मासिक आय योजना में 5711 करोड़, महिला सम्मान बचत पत्र में 105 करोड़, राष्ट्रीय बचत पत्र में 4860 करोड़, राष्ट्रीय बचत योजना में 28 करोड़, लोक भविष्य निधि में 1838 करोड़, आवर्ती जमा में 4458 करोड़, डाकघर बचत खाता में 3710 करोड़, सुकन्या समृद्धि योजना में 2540 करोड़, वरिष्ठ नागरिक बचत योजना में 2104 करोड़ और सावधी जमा में 5040 करोड रुपए शामिल है। यह जानकारी सांसद की ओर प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी गयी है।

This post has already been read 897 times!

Sharing this

Related posts