उपायुक्त ने शत प्रतिशत स्कूलों में रसोईयों की नियुक्ति करने का दिया निर्देश

देवघर : उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी श्री विशाल सागर की अध्यक्षता में जिला स्तरीय स्टीयरिंग-सह-मॉनिटरिंग कमिटि की बैठक का आयोजन समाहरणालय सभागार में किया गया। इस दौरान उपायुक्त ने मुख्य रूप से विद्यालयों में मध्याह्न भोजन वितरण की स्थिति, रसोई सेड, विद्यालयों में खाद्यान्न की प्रत्येक माह ससमय उपलब्धता, विद्यालयों में पोषण वाटिका (किचन गार्डन) की स्थिति के अलावा विद्यालयों में कार्यरत रसोईया सहित एवं स्कूलों में रसोईयों की आवश्यकता की बिन्दुआर समीक्षा करते हुए संबंधित विभाग के अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश दिया।

इसके अलावा बैठक के दौरान उपायुक्त श्री विशाल सागर ने देवघर जिला अन्तर्गत स्कूलों में वैसे स्कूल जहां रसोईया का पद रिक्त है, उन स्कूलों में जल्द से जल्द रसोईयों के रिक्त पदों पर नियुक्ति करें। आगे उपायुक्त ने स्कूलों में पढ़ने वाले शत प्रतिशत बच्चों का बैंक खाता खुलवाना सुनिश्चित करें। साथ ही बैठक के दौरान उपायुक्त ने मिड डे मिल की निगरानी व प्रोटीनयुक्त भोजन पर विशेष जोर देने का निदेश दिया। इसके अलावे उपायुक्त ने स्कूलों में शिक्षकों की उपस्थिति के अलावा शिक्षा व्यवस्था को और अधिक बेहतर करने को लेकर संबंधित अधिकारी को आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश दिया गया। साथ ही उपायुक्त ने कस्तुरबा विद्यालयों की स्थिति, स्कूलों में बच्चों की उपस्थिति, शिक्षकों की उपस्थिति के अलावा स्कूल प्रांगण में बच्चों के भोजन करने हेतु हॉल की व्यवस्था जिन कस्तुरबा विद्यालयों में नहीं है उनसे जुड़े प्रतिवेदन उपायुक्त कार्यालय को समर्पित करें। बैठक के दौरान उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि प्रखण्ड व पंचायत के विद्यालयों, कस्तूरबा विद्यालयों के भवनों में शौचालय, वर्ग कक्षा आदि की मरम्मति एवं रंग-रोगन की आवश्यकता को देखते हुए प्रस्ताव तैयार कर जिला शिक्षा अधीक्षक के माध्यम से उपायुक्त कार्यालय को उपलब्ध कराये, ताकि जल्द ही जिला स्तर से उस पर कार्य प्रारंभ कराया जा सके। साथ ही जर्जर व क्षतिग्रस्त स्कूल के भवनों का अनापति प्रमाण पत्र प्राप्त कर उपायुक्त कार्यालय को समर्पित करें।

साथ ही मध्यान भोजन की समीक्षा करते हुए सभी विद्यालयों में चावल की उपलब्धता, बच्चों को मीनू के हिसाब से भोजन व नास्ते की स्थिति से अवगत हुई। साथ ही संबंधित अधिकारी को निदेशित किया कि सभी विद्यालयों में मध्याम भोजन हेतु खाद्य सामग्री समय पर उपलब्ध कराया जाय, ताकि बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के साथ भोजन भी उपलब्ध कराया जा सके। इसके अलावे उन्होंने संबंधित अधिकारी को निदेशित कि सभी स्कूली बच्चे स्कूली ड्रेस में आये, इसका विशेष ध्यान रखें। साथ ही शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निदेशित किया कि बच्चों को डीबीटी के माध्यम से स्कूल ड्रेस हेतु राशि भेजने के अलावा जिन बच्चों का बैंक खाता नहीं है उन्हें जेएसएलपीएस के माध्यम से स्कूल ड्रेस बनाकर वितरण करने का निदेश दिया। आगे उपायुक्त ने स्कूलों में पोषण वाटिका (किचन गार्डन) पर विशेष ध्यान देने का निर्देश दिया।

इस दौरान उपरोक्त के अलावे उप विकास आयुक्त डॉ कुमार ताराचन्द, जिला शिक्षा पदाधिकारी श्री टोनी प्रेम राज टोप्पो, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी श्रीमती रून्नु मिश्रा, विभिन्न प्रखण्डों के प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, सहायक जनसम्पर्क पदाधिकारी श्री रोहित कुमार विद्यार्थी के साथ-साथ संबंधित विभाग के अधिकारी कर्मी आदि उपस्थित थे।

This post has already been read 2657 times!

Sharing this

Related posts